ITI Full Form in Hindi – आईटीआई फुल फॉर्म क्या होता है?

आप भी कभी iti लिखा देखा होगा और अपने सोचा भी होगा की इसका मतलब क्या होता है और इससे जुड़े बहुत सारे सवाल आपके मन मे आते होंगे । जैसे – ITI Full Form in Hindi, ITI Ka Full Form , ITI का Full Form क्या है, ITI Ka Poora Naam Kya Hai, आईटीआई क्या है, ITI Courses क्या हैं, ITI की Top Trades कौन-कौन सी हैं, ITI Courses करने की योग्यता क्या है, iti ncvt , iti scvt क्या होता है iti gov college , iti syllabus ऐसे सभी सवालों के जबाब आपको इस Post में मिल जायेगा.

ITI Full Form in Hindi - आईटीआई फुल फॉर्म क्या होता है?


Iti ka full form –

iti full form in hindi 

ITI की Full Form Industrial Training Institute होती है. ITI को हिंदी में औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान के नाम से जाना जाता है. ITI को IT के रूप में भी जाना जाता है जो Engineering और Non-engineering Technical Fields में Training प्रदान करता है. तो ये थी iti ka full form  ।

ITI full form in English –

I – Industrial

T – Training

I –Institute


iti kya hai  ITI क्या है –

ITI full form आप लोग जान गए हो । ITI  भारत में एक माध्यमिक विद्यालय के नाम से जाना जाता है जो कि Training और Ministry of Employment भारत सरकार के प्रशिक्षण महानिदेशालय (DGET) के तहत स्थापित किया गया है. इसमे भी दो तरह के कोर्स होते है एक ncvt और scvt । जिनके बारे मे हम आपको नीचे डीटेल मे बताने वाले है । इसमे बहुत सारे trades  होते है

जैसे – ITI Electrical, Mechanical, Computer Hardware, Refrigeration and Air Conditioning, Carpentry, Plumbing, Welding, Fitter आदि जैसे बहुत सी Trades में Training Provide करता है.  इसकी मदद से कोई भी स्टूडेंट किसी भी फैक्ट्री या स्वरोजगार करने के काबिल हो जाता है क्योंकि इसमें स्टूडेंट्स को थ्योरी के अलावा प्रैक्टिकल नॉलेज ज्यादा दिया जाता है ताकि उनके हाथ मे किसी एक विशेष क्षेत्र में हुनर आ जाये और वे अपना जीवनयापन आसानी से कर सके.


ITI full form in hindi

Iti course –

अगर आप iti करना चाहते हो तो आपको ये पता होना चाहिए की इसमे ncvt और scvt दो तरह के कोर्स होते है । सबसे पहेले आपको इसके बारे मे पता  होना चाहिए ।आईटीआई iti मे ncvt और एससीवीटी दो तरह के सर्टिफिकट मिलते है एक ncvt वाला और एक scvt वाला ।

NCVT

Ncvt का मतलब नेशनल काउंसिल ऑफ वोकेशनल ट्रेनिग होता है । जो नेशनल लेवल या सेंट्रल लेवल पर होता है । जिसमे नॅशनल लेवल की सभी ट्रेड होती है ।

SCVT 

Scvt को राज्य की तरफ से बनाया गया एक अगल कोर्स है । जिसका मतलब स्टेट काउंसिल ऑफ वोकेशनल ट्रेनिग है कोर्स सभी समान होते है पर सर्टिफिकेट मे भर अंतर होता है । बाकी सब समान होता है

Ncvt और scvt मे क्या करे ?

Ncvt जायदा अच्छा रहेगा क्योकि इसका सर्टिफिकेट सेंट्रल की ओर से दिया जाता है । अगर आप अप्रेंटिश के लिए किसी कंपनी मे अप्लाई करते हो तो ncvt वालों को पहेले लिया जाता है । ncvt की डिमांड ज्यादा है सभी जगह पर।


एनसीवीटी और एससीवीटी के बीच अंतर –

आज से कुछ सालों पहले तक एनसीवीटी और एससीवीटी के बीच बहुत बड़ा अंतर हुआ करता था, जिसके कारण कई बार छात्रों को भी और नौकरी देने वालों को भी कई तरह की परेशानियों का सामना करना पड़ता था।
जिसे देखते हुए भारत सरकार ने और राज्य सरकारों ने मिलकर एनसीवीटी और एससीवीटी के बीच के अंतर को खत्म करने के लिए कई जरूरी कदम उठाए।

जिसके बाद आज एनसीवीटी और एससीवीटी लगभग एक समान है, फिर भी कुछ अंतर जो एनसीवीटी और एससीवीटी में है, वह निम्न है-

  • एनसीवीटी पूरे देश के लिए काम करता है जबकि एससीवीटी किसी राज्य के लिए काम करता है।
  • एनसीवीटी में एग्जाम सेमेस्टर वाइज होता है, जबकि आज भी कुछ एससीवीटी में इयरली एग्जाम होता है।
  • एनसीवीटी के ऑफिशियल वेबसाइट पर आप सभी जरूरी जानकारी एक जगह पर देख सकते हैं, जबकि हर राज्य के एससीवीटी के लिए अलग-अलग वेबसाइट होता है।
  • एनसीवीटी के अंतर्गत पूरे भारत के 15000 से ज्यादा आईटीआई संस्थान आते हैं,जबकि पूरे भारत के सभी एससीवीटी के अंतर्गत भी बहुत ही कम आईटीआई संस्थान ही आते हैं।
  • आज भी कुछ प्राइवेट नौकरियों में एससीवीटी वालों को कुछ परेशानी का सामना करना पड़ता है, जबकि एनसीवीटी वाले को पूरे भारत ही नहीं, किसी अन्य देश में भी नौकरी मिलने में कोई परेशानी नहीं होती है।

एनसीवीटी एमआईएस (NCVT MIS) क्या होता है ? –

NCVT MIS meaning in hindi 

एनसीवीटी एमआईएस का मतलब एनसीवीटी मैनेजमेंट इनफॉरमेशन सिस्टम होता है।एनसीवीटी एमआईएस एक एडमिनिस्ट्रेटिव इनफॉरमेशन सिस्टम है, जहां कंप्यूटराइज्ड डेटाबेस डिटेल सभी आईटीआई संस्थानों का, उनमे होने वाले एनरोलमेंट का, फैकल्टी मेंबर्स का और संसथान के प्लेसमेंट का रिकॉर्ड रहता है।

इसके अलावा भी आईटीआई छात्रों को जो भी जरूरी जानकारी चाहिए होती है वह सब एनसीवीटी एमआईएस की ऑफिशियल वेबसाइट पर उपलब्ध रहता है।छात्र एनसीवीटी एमआईएस की वेबसाइट पर बहुत सारा जरूरी इंफॉर्मेशन देख सकते हैं, कोई जरूरी डॉक्यूमेंट डाउनलोड कर सकते हैं, और अपने डॉक्यूमेंट को वेरीफाई कर सकते हैं।

एनसीवीटी एमआईएस पोर्टल आईटीआई के छात्रों आईटीआई के ट्रेनर और आईटीआई से जुड़ी नौकरी देने वाले सभी के लिए बहुत उपयोगी है।एनसीवीटी एमआईएस की ऑफिशियल वेबसाइट ncvtmis.gov.in है।


ITI full form

ITI के लिए योग्यता Eligibility Of ITI Course –

ITI करने के लिए किसी स्पेशल डिग्री का जरुरत नहीं है जो लोग भी ITI में एडमिशन लेने चाहता है उन्हे कम से कम 10th या मैक्सिमम 12th क्लास पास होना चाहिए, तभी उन्हें मेरिट Based या एंट्रेंस एग्जाम Based पर एडमिशन मिलता है।

ट्रेनिंग ले रहे लाभार्थी (candidates) की ट्रेनिंग पूरा होने के बाद उन्हें AITT ( All India Trade Test ) के टेस्ट एग्जाम क्लियर करना होता है एवं उसमे सफल candidates को NTC (National Trade Certificate) के द्वारा Certificate दिया जाता है जो पुरे भारत में मान्य होता है।

  • आईटीआई डिप्लोमा कोर्स के लिए 8th, 10th और 12th के पास छात्र एडमिशन ले सकते हैं
  • आईटीआई के लिए 12th सर्वोत्तम माना जाता है
  • बेसिक टेकनिकल ज्ञान अनिवार्य
  • एडमिशन वर्ष की महत्वपूर्ण तारीख के अनुसार उम्मीदवारों की उम्र 14 से 40 वर्ष के भीतर रहनी चाहिए।
  • इन शर्तों को पूरा करने के अलावा, उम्मीदवारों को एडमिशन के लिए एडमिशन परीक्षा अर्हता प्राप्त करनी होगी।
  • कम से कम 35% से अधिक होना चाहिए ।

आईटीआई के प्रकार –

आईटीआई ट्रेड के मुख्य रूप से दो प्रकार होते हैं

1- Engineering Trades

इंजीनियरिंग ट्रेड्स पूरी तरह से टेक्नोलॉजिकल होती है मतलब यह कि यह तकनीकी से जुड़ी हुई होती है। इस प्रकार के ट्रेड में छात्रों को ज्यादातर गणित विज्ञान और दूसरे टेक्नोलॉजी जैसे विषयों पर शिक्षा प्रदान की जाती है।

2- Non Engineering Trades

वही नोन इंजीनियरिंग ट्रेडज में टेक्निकल विषय नहीं होते इसके अलावा यह विज्ञान या तकनीकी से कम ही संबंध रखते हैं इन्हें अक्सर उन्हीं छात्रों के द्वारा दिया जाता है जिन्हें विज्ञान के विषय में कम दिलचस्पी होती है।

Iti course अवधि

विभिन्न ट्रेडों के लिए कोर्स अवधि अलग है। यह छात्रों द्वारा चुने गए कोर्स के अनुसार 1 वर्ष, 2 साल या 3 साल से भिन्न होता है। कोर्स पूरा होने पर उम्मीदवारों को उनके कोर्स के लिए प्रमाण पत्र प्राप्त होगा।


ITI कोर्स करने के फायदे ? –

  • इस कोर्स का सबसे ज्यादा फायदा यह है किबच्चों को प्रैक्टिकल ट्रेनिंग दी जाती है।
  • आईटीआई में आपको 6 महीने 2 साल और 1 साल तक का कोर्स मिलेगा।
  • इस कोर्स को करने के बाद आप डिप्लोमा में आसानी से एडमिशन ले सकते हैं।
  • आपको इसके लिए किसी भी किताब का ज्ञान नहीं चाहिए।
  • इस कोर्स को आठवीं से लेकर 12वीं तक सभी बच्चे आसानी से कर सकते हैं
  • आईटीआई डिप्लोमा कोर्स के लिए 8th, 10th और 12th के पास छात्र एडमिशन ले सकते हैं

आईटीआई कोर्स के लिए कैसे अप्लाई करें ? –

  • आईटीआई में एडमिशन लेने के लिए आपको कम से कम दसवीं पास या उससे ज्यादा की पढ़ाई करनी पड़ती है
  • उसके बाद आपको एक Written Test देना होता है जिसमें आपको अच्छे अंक प्राप्त करने होते हैं।
  • रिटन टेस्ट के बाद क्वालिफाइड स्टूडेंट की लिस्ट जारी की जाती है।
  • और आपका एडमिशन मेरिट के आधार पर सरकारी इंस्टिट्यूट में होता है।
  • अगर आप के अंक ज्यादा नहीं है और आपको सरकारी इंस्टीट्यूट प्राप्त नहीं हुआ है तब आप इसे प्राइवेट आईटीआई इंस्टीट्यूट से भी कर सकते हैं।

आईटीआई में एडमिशन लेने के लिए जरूरी दस्तावेज?

  • 8वीं व 10वीं 12 वी की मार्कशीट
  • एससी और ओबीसी सर्टिफिकेट
  • आधार कार्ड
  • बैंक अकाउंट पासबुक
  • डेबिट कार्ड क्रेडिट कार्ड ऑनलाइन पेमेंट के लिए
  • आपका पहचान पत्र । आदि

आईटीआई करने के लिए फीस कितनी है?

  • इंजीनियरिंग ट्रेड्स से सरकारी सेक्टर में फ़ीस 2 हजार से 10 हजार तक
  • इंजीनियरिंग ट्रेड्स से प्राइवेट सेक्टर में फ़ीस 20 हजार से 60 हजार तक
  • नॉन-इंजीनियरिंग ट्रेड्स से सरकारी सेक्टर में फ़ीस 4 हजार से 15 हजार तक
  • नॉन-इंजीनियरिंग ट्रेड्स से प्राइवेट सेक्टर में फ़ीस 15 हजार से 60 तक

ITI करने के बाद वेतन कितनी प्राप्त होती है? –

  • आईटीआई करने के बाद अगर आपने कोई अच्छी कंपनी ज्वाइन की है तो तकरीबन आपको 15 से 20 हजार तक प्राप्त हो सकते हैं
  • आईटीआई करने के बाद अगर आप कोई सरकारी कंपनी ज्वाइन करते हैं तो आपकी सैलरी इससे भी अधिक होगी।
  • दि सरकारी फैक्ट्री, रेलवे, दिल्ली मेट्रो में आपकी जॉब लग जाती है तो वहाँ आप 30 से लेकर 50 हजार रुपये महीने का कमा सकते है
  • आप आईटीआई के बाद अछि जॉब केआर सकते हो ।

आईटीआई सेंटर का चुनाव केसे करे?

आईटीआई कोर्स करने के लिए आप अपनी सुविधानुसार सरकारी एवं प्राइवेट दोनों में से किसी एक इंस्टिट्यूट का चुनाव कर सकते हैं। आईटीआई इंस्टिट्यूट हर राज्य में स्थित होते है। हमारे देश में लगभग 11964 आईटीआई संस्थाएं उपलब्ध है जिसमें से 2284 सरकारी और 9680 प्राइवेट सेंटर है। आंकड़े पिछले कुछ सालों से लगातार बढ़ रहे हैं क्योंकि आईटीआई की डिमांड बढ़ती जा रही है। वर्ष 2020 में आईटीआई से ट्रेंड हुए विद्यार्थियों की संख्या लगभग 45% से ज्यादा बढ़ चुकी है जिससे कि पता चलता है कि आईटीआई में कैरियर स्कोप बहुत अच्छा है।


कुछ आईटीआई कोर्सेज –

  • ITI Electrician
  • ITI Fitter
  • ITI Automobile
  • ITI Welder
  • ITI Mechanic
  • ITI Plumber
  • ITI Surveyor
  • ITI Droughts man Civil
  • ITI Digital Photographer
  • ITI Hair and Skin Care
  • ITI Fruit and Vegetable Processing
  • ITI Firemen
  • ITI Cutting and Sewing
  • ITI Footwear Maker
  • ITI Library and Information Service

दसवीं के बाद आईटीआई डिप्लोमा कोर्स

10 क्लास के बाद आप कौन कौन सब्जेक्ट से आई टी आई कोर्स कर सकते हो उसकी सूची नीचे दी गई है। सूची मे से आप अपने मन मुताबिक सब्जेक्ट चुनकर डिप्लोमा कर सकते हो।

  • Diesel Mechanic
  • Bleaching & Dyeing Calico Print
  • Commercial Art
  • Droughts man (Mechanical)
  • Droughts man (Civil)
  • Fitter
  • Foundry Man
  • Dress Making
  • Electrician
  • Hair & Skin Care
  • Fruit & Veritable Processing
  • Information Technology & E.S.M.
  • Letter Press Machine Mender
  • Manufacture Foot Wear
  • Lather Goods Maker
  • Machinist
  • Mechanic Electronics
  • Instrument
  • Mechanic Radio & T.V.
  • Mechanic Motor Vehicle
  • Motor Driving-Cum-Mechanic
  • Pump Operator
  • Tool & Die Maker
  • Refrigeration Secretarial Practice
  • Turner
  • Sheet Metal Worker
  • Surveyor

बारहवीं  के बाद आईटीआई डिप्लोमा कोर्स

अगर आप 12वी पास हो तो आपके सामने डिप्लोमा करने के दो विकल्प है। पहला अगर आप 12वी math , physics and chemistry से किये हो तो direct पॉलीटेक्निक में एडमिशन ले सकते हो और 2 साल में डिप्लोमा पूरा कर सकते हो। दूसरा आप ITI Course कर सकते हो। नीचे कुछ डिप्लोमा कोर्स की लिस्ट है जो specially 12वी के बाद किया जा सकता है।

  • Stenography English
  • Computer Operator & Programming Assistant (COPA)
  • Stenography Hindi

WTF full form in hindi 


List Of Engineering Trades Name In ITI

  • Radio Mechanic
  • TV Machanic
  • Mechanic Ref. and Air Conditioning
  • Mechanist Grinder
  • Information Technology
  • Electronic system Maintenance
  • Electronic Mechanic
  • Radiology Mechanic
  • Surveyor
  • Draughtsman Mechanical
  • Electrician
  • Draughtsman Civil
  • Production and Manufacture Sector
  • Electricals sector
  • Automobiles Sector
  • Information Technology Sector
  • Wire Man
  • Turner
  • Mechanist
  • Fitter
  • Architectural Assistant
  • Automotive Body Repair
  • Auto Electrician
  • Carpenter
  • Automotive Paint Repair
  • Computer in Hardware and Networking
  • Mechanic Diesel
  • Spray Painting
  • Mechanic Tractor
  • Interior Designing and Decoration
  • Plastic Processing Operator
  • Plumber
  • Welder
  • Sheet Fabricator
  • and may more

List Of Non Engineering Trades Name In ITI

  • Dress Making
  • Desktop Publishing Operator
  • Commercial Arts
  • Computer Operator and Programming Assistant
  • Cutting and Sewing
  • Photography
  • Food Production
  • Needle Work
  • Fashion Designing
  • Health Inspector
  • Hair and Skincare
  • Textile Designing
  • Office Assistant in Computer Operator
  • Secretarial Practice
  • Hospital House Keeping
  • Agro-Processing
  • Resource Person

Popular ITI Colleges in India

  • Indian Institute of Technology (IIT), Goa
  • Indian Institute of Technology (IIT), Bhilai
  • Indian Institute of Technology (IIT), Madras
  • Indian Institute of Technology (IIT), Guwahati
  • Indian Institute of Technology (IIT), Indore
  • Indian Institute of Technology (IIT), Kanpur
  • Indian Institute of Technology (IIT), Jodhpur
  • Indian Institute of Technology (IIT), Mumbai
  • Indian Institute of Technology (IIT), Patna
  • Indian Institute of Technology (IIT), Delhi
  • Indian Institute of Technology (IIT), Ropar
  • Indian Institute of Technology (IIT), Mandi
  • Indian Institute of Technology (IIT), Roorkee
  • Indian Institute of Technology (BHU), Varanasi
  • Indian Institute of Technology (IIT), Jammu
  • Indian Institute of Technology (IIT), Palakkad
  • Indian Institute of Technology (IIT), Tirupati
  • Indian Institute of Technology (IIT), Kharagpur
  • Indian Institute of Technology (IIT), Hyderabad
  • Indian Institute of Technology (IIT), Gandhi Nagar
  • Indian Institute of Technology (IIT), Bhubaneshwar

Trade Syllabus

सभी ट्रेड अगल अगल syllabus होता है जिसे आप सरकारी वैबसाइट या राज्य की वैबसाइट से down lode कर सकते हो ।


और पड़े 

Conclusion

प्यारे दोस्तों उम्मीद करते हैं कि आपको हमारे आर्टिकल के माध्यम से समझ आ गया होगा कि आईटीआई कोर्स क्या है और iti full form क्या होता है  अथवा इसे करने की क्या प्रक्रिया है। इसमे कितने कोर्स है ,कितनी फीस है , कैसे करे आदि । अगर आपको कोई भी कठिनाई आए तो आप हम से नीचे कमेंट बॉक्स में कमेंट करके पूछ सकते हैं आप का कमेंट हमारे लिए महत्वपूर्ण है आगे भी इसी तरह से आपको अपने आर्टिकल के माध्यम से और चीजों के बारे में जानकारी प्रदान करता रहूँगा।

fish name 

medium post 

 

Leave a Reply